• Soils of Himachal Pradesh
    Himachal Pradesh GK

    Soils of Himachal Pradesh

    Unit-01 Geography of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश का भूगोल Chapter-05 Soils of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश – मिट्टी मिट्टी – Soils of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश की मिट्टियाँ-हिमाचल प्रदेश की मिट्टी को 5 खण्डों में बाँटा जा सकता है- – (1) निम्न पहाड़ी मिट्टी- इस खण्ड में समुद्रतल से 1000 मी. तक ऊँचाई वाले क्षेत्र आते हैं। सिरमौर की पौंटा घाटी, नाहन, बिलासपुर, ऊना, हमीरपुर, काँगडा के मैदानी भाग, मण्डी की बल्हघाटी, चम्बा घाटी क्षेत्र इसके अंतर्गत् आते हैं। इस खण्ड की मिट्टी चिकनी व पथरीली मिट्टी का मिश्रण है। इसमें कार्बन और नाइट्रोजन 10:1 के अनुपात में पाया जाता है। इसमें धान, मक्की, गन्ना, अदरक, नींबू व आम की…

  • Valleys in Himachal Pradesh
    Himachal Pradesh GK

    Valleys in Himachal Pradesh

    Unit-01 Geography of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश का भूगोल Chapter-04 Valleys in Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश -घाटियाँ काँगड़ा घाटी- काँगड़ा घाटी को वीर-भूमि के नाम से जाना जाता है। यह शाहपुर से लेकर पालमपुर तक फैली है। इस घाटी के प्रमुख नगर हैं-धर्मशाला, नूरपुर, पालमपुर, काँगड़ा, बैजनाथ। धौलाधार पर्वत श्रृंखला काँगड़ा घाटी पर लगे मुकुट के समान है। घाटी का बीड़ स्थान हैं—-ग्लाइडिंग के लिए प्रसिद्ध है। सांगला (बस्पा) घाटी– सांगला घाटी समुद्रतल से 1830 मीटर से 3475 मीटर तक ऊँचाई के बीच स्थित है। सांगला घाटी का सबसे ऊँचा गाँव छितकुल है। ‘कामरू’ व ‘सांगला’ इस घाटी के प्रमुख गाँव हैं। सांगला घाटी को बस्पा घाटी के नाम से…

  • Passes in Himachal Pradesh
    Himachal Pradesh GK

    Passes in Himachal Pradesh

    Unit-01 Geography of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश का भूगोल Chapter-03 Passes in Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश के दरों [दरे/जोतें] के नाम क्रम सं. दरों के नाम समुद्रतल से ऊँचाई संबंधित जिले 0 परांगला 5,548 मीटर लाहौल-स्पीति 1 भीम घसूतड़ी 5,440 मीटर काँगड़ा-चम्बा 2 लालुनी जोत 5,440 मीटर लाहौल-स्पीति 3 पीन पार्वती 5,319 मीटर कुल्लू-स्पीति 4 मकोड़ी जोत 5,190 मीटर काँगड़ा 5 दुग्गी जोत 5,060 मीटर भरमौर-लाहौल 6 तैंतु दर्रा 5,000 मीटर कुल्लू-काँगड़ा 7 कुगती दर्रा 4,961 मीटर लाहौल-भरमौर 8 गुलारी जोत 4960 मीटर लाहौल 9 छोबिया दर्रा 4934 मीटर लाहौल-भरमौर [लाहौल और भरमौर के मध्य] 10 दराटी दर्रा/‘दरारी दर्रा’ 4,720 मीटर चम्बा-पांगी 11 तामसर दर्रा 4572 मीटर काँगड़ा 12 कुंजम…

  • Mountain Ranges in Himachal Pradesh
    Himachal Pradesh GK

    Mountain Ranges in Himachal Pradesh

    Unit-01 Geography of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश का भूगोल Chapter-02 Mountain Ranges in Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश की पर्वत श्रृंखलाएँ, चोटियाँ उच्चावच (Relief)- स्थलरूपों से अभिप्राय धरातलीय विन्यास से है, जबकि इन्हीं धरातलीय स्वरूपों के उच्चवर्ती एवं निम्नवर्ती भू-भागों की ऊँचाइयों एवं गहराइयों में पाए जाने वाले अन्तर को उच्चावच कहते हैं। दूसरे शब्दों में पर्वतों की ऊपरी चोटियाँ एवं घाटी के निम्नवर्ती भू-भागों के बीच औसत ऊँचाई का अन्तर ही उच्चावच कहलाता है। स्थलरूपों का संबंध स्थलरूपों के विन्यास (Configuration) से है। इन स्थलरूपों में पर्वत, पठार, पहाड़ियाँ, मैदान, कटक, घाटियाँ, उच्च भूमि, निम्न भूमियाँ तथा स्थला कृतियाँ जो धरातल पर विद्यमान हैं, सम्मिलित होती हैं। हिमाचल प्रदेश पश्चिमी…

  • District of Himachal Pradesh
    Himachal Pradesh GK

    District of Himachal Pradesh

    Unit-01 Geography of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश का भूगोल Chapter-01 Location & District of Himachal Pradesh हिमाचल प्रदेश की स्थिति व जिले हिमाचल प्रदेश की स्थिति व जिले शाब्दिक अर्थ-‘हिमाचल’ शब्द ‘हिम’ और ‘अचल’ शब्दों से मिलकर बना है। हिम का अर्थ है ‘बर्फ’ और ‘अचल’ का अर्थ है ‘पर्वत’ अर्थात् हिमाचल बर्फ का पर्वत अथवा बर्फ से घिरा पर्वत है। स्थिति (भौगोलिक)- हिमाचल प्रदेश पश्चिमी हिमालय पर्वत-शृंखला में बसा हुआ है। हिमाचल 75°-47′-55″ तथा 79°-04-20″ रेखांश पूर्व और 30°-22′-40″ तथा 33°-12′-40″ अक्षांश उत्तर के मध्य स्थित है। हिमाचल प्रदेश की सीमाएँ 1170 किमी. हैं, जो दक्षिण में हरियाणा और उत्तर प्रदेश, उत्तर में जम्मू-कश्मीर से, पश्चिम में पंजाब से,…

You cannot copy content of this page