उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
Uttarakhand GK

उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

उत्तराखंड: भौगोलिक स्थिति

Uttarakhand Physical Location & Division

उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand 


उत्तराखंड (एक दृष्टि में) [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

स्मरणीय तथ्य (PTR – Points To Remember)

  • राज्य का गठन——-9 नवंबर, 2000
  • उत्तरांचल से उत्तराखंड नाम पड़ा ——- 1 जनवरी, 2007 को
  • पौराणिक नाम ——- केदारखंड या मानसखंड
  • लंबाई —- पूर्व से पश्चिम की ओर ———358 किमी.
  • चौड़ाई—– उत्तर से दक्षिण की ओर —–320 किमी.
  • क्षेत्रफल―—-53,483 वर्ग किमी. (भारत के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किमी. का लगभग 1.63%)
  • वर्तमान में राज्यों में क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत में स्थान —— 18वां
  • राजधानी ——— देहरादून (अस्थायी )।
  • प्रस्तावित राजधानी –—- गैरसैंण
  • सीमावर्ती देश —— उत्तर में तिब्बत (चीन) तथा पूर्व में नेपाल
  • प्रमुख नदियां —— गंगा, यमुना, रामगंगा, भागीरथी, अलकनंदा, काली आदि।
  • मौसम ग्रीष्म (मध्य मार्च से मध्य जून), वर्षा (मध्य जून अक्टूबर), शीत (मध्य अक्टूबर से मध्य मार्च)।
  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    प्रशासनिक इकाइयां

  • जिलों की संख्या (2023)———— 13
  • मंडलों की संख्या (2023)———– 2
  • नगर निगम (2023)——————9
  • नगर पालिका परिषद ( 2023 )—–43
  • नगर पंचायत (2023)—————-50
  • सामुदायिक विकास खंड ( 2023)—–95
  • औद्योगिक कस्बे (2023)—————–2
  • न्याय पंचायतें (2023)————— 662
  • ग्राम पंचायतें (2023)—————7795
  • तहसीलें (2023)——————-110
  • उप तहसील (2023)——————18
  • जनगणना ग्राम (जनगणना 2011 )——16793
  • (i) आबाद ग्राम (वन बस्तियों सहित )—–15745
  • (ii) गैर-आबाद ग्राम————————1048
  • पुलिस स्टेशन (2023)—————-166
  • विकास प्राधिकरण (2023)————- 14
  • जनप्रतिनिधि (2023)
  • लोक सभा———5
  • राज्य सभा———-3
  • विधानसभा——–70
  • सहकारिता (2022-23)*
  • जिला सहकारी बैंक——–10
  • सहकारी बैंक ( शाखाएं)——301

भौगोलिक संरचना संक्षिप्तिकी

  • अक्षांशीय स्थिति :—— उत्तरीय अक्षांश में 28°43′ से 31°27′ तक
  • अक्षांशीय विस्तार :—— 2° 44′
  • देशान्तरीय स्थिति :—– पूर्वी देशान्तर में 77°34′ से 81° 02′ तक
  • देशान्तरीय विस्तार :——— 3o 28′
  • राज्य की लम्बाई (पू. – प.) :——– 358 किमी
  • राज्य की चौड़ाई (उ.-द.) :——— 320 किमी
  • राज्य से लगी अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं की कुल लम्बाई :—- लगभग 625 किमी.
  • राज्य से लगी चीन सीमा की लम्बाई :———- लगभग 350 किमी.
  • राज्य से लगी नेपाल सीमा की लम्बाई :———– लगभग 275 किमी
  • राज्य की देश में स्थिति :————— उत्तर-पश्चिम में
  • राज्य की हिमालय में स्थिति :————- पश्चिम-मध्य हिमालय में
  • राज्य का आकार :————————- आयताकार
  • राज्य का क्षेत्रफल और देश के सन्दर्भ में प्रति.——— 53,483 वर्ग किमी (1.69%)
  • देश के सभी 36 (28 स्वशासित + 8 केंद्रशासित) राज्यों में क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखण्ड का स्थान राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, आन्ध्रा, उड़ीसा, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, तेलंगाना, विहार, प. बंगाल, अरुणालच, झारखंड, असम, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर व लेह लद्दाख के बाद :—-20वां है
  • देश के केवल 28 स्वशासित राज्यों में क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखण्ड का स्थान –18वां है
  • देश के सभी (36) राज्यों में से 16 (पंजाब, हरियाणा, केरल, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम, नागालैण्ड, त्रिपुरा, सिक्किम, गोवा, : अंडमान, लक्षद्वीप, दिल्ली, चंडीगढ़ व दादरा नगर हवेली ) राज्यों का क्षेत्रफल है ——-उत्तराखण्ड से कम *पुडुचेरी,
  • राज्य के कुल क्षेत्रफल में पर्वतीय भाग :——- 46035 वर्ग किमी. (86.07% )
  • राज्य के कुल क्षेत्रफल में मैदानी भाग :——— 7448 वर्ग किमी. (13.93%)
  • राज्य के कुल क्षेत्रफल में गढ़वाल एवं कुमाऊं मण्डल के भाग क्रमशः :—- 60.67% एवं 39.33%
  • राज्य में सर्वाधिक और सबसे कम क्षेत्रफल वाले जिले हैं क्रमशः :—–चमोली एवं चम्पावत
  • राज्य के सभी जिले क्षेत्रफल के घटते क्रम में : —-चमोली (8,030 वर्ग किमी.) उत्तरका. ( 8,016), पिथौ. ( 7,090), पौढ़ी (5,329 ), नैनी (4251) टिहरी (3642), अल्मो. ( 3139), देहरा. ( 3088), ऊ. सि.न. (2542), हरिद्वार (2360), बागे. (2246), रुद्रप्र. (1984) व चम्पा. (1766)
  • राज्य की प्राकृतिक सीमाएं :—— उत्तर में तिब्बत हिमालय, पश्चिम में टौस नदी, पूर्व में काली नदी, दक्षिण-पूर्व, दक्षिण, तथा दक्षिण-पश्चिम में तराई क्षेत्र
  • राज्य की राजनीतिक सीमाएं——— पूर्व में नेपाल, उत्तर में तिब्बत (चीन), पश्चिम में हिमाचल प्रदेश दक्षिण-पश्चिम, दक्षिण तथा दक्षिण-पूर्व में उत्तर प्रदेश स्थित है।
  • राज्य की अन्तर्राष्ट्रीय सीमाएं :——- उत्तर में तिब्बत (चीन) तथा पूर्व में नेपाल
  • गढ़वाल का द्वार :—— कोटद्वार (पौढ़ी)
  • कुमाऊं का द्वार :—– काठगोदाम (नैनी)
  • प्रदेश से सटे राज्यों की संख्या :—- 2 (हिमाचल प्र. एवं उ. प्र. )
  • सर्वाधिक सीमा रेखा वाला राज्य :—- उत्तर प्रदेश
  • सबसे कम सीमा रेखा वाला राज्य :—– हिमाचल प्रदेश
  • सर्वाधिक राज्यों को स्पर्श करने वाला जिला —-देहरादून (उ.प्र. व हि.प्र. को )
  • उत्तर प्रदेश को स्पर्श करने वाले जिले :—- 5 (देहरादून, हरिद्वार, पौढ़ी, नैनीताल और ऊ. सिं. नगर)
  • हिमाचल प्रदेश को स्पर्श करने वाले जिले :—– 2 ( देहरादून और उत्तरकाशी )
  • नेपाल को स्पर्श करने वाले जिले :—- 3 (ऊधम सिंह नगर, चम्पावत और पिथौरागढ़ )
  • तिब्बत (चीन) को स्पर्श करने वाले जिले :—– 3 ( पिथौरागढ़, चमोली और उत्तरकाशी )
  • राज्य के सबसे पूर्वी और पश्चिमी जिले क्रमशः ——–: पिथौरागढ़ और देहरादून
  • राज्य के सबसे उत्तरी और दक्षिणी जिले क्रमशः——–उत्तरकाशी और ऊधम सिंह नगर
  • सबसे लम्बी अंतर्राष्ट्रीय सीमा रेखा वाला जिला :—- पिथौरागढ़ (नेपाल और तिब्बत से )
  • राज्य का वह जिला जिसे दो देश स्पर्श करते हैं :—- पिथौरागढ़
  • उ.प्र. से सर्वाधिक और सबसे कम सीमा रेखा वाले जिले क्रमशः — ऊधम सिंह नगर व नैनीताल
  • राज्य के सर्वाधिक जिलों (7 जिलों) को स्पर्श को स्पर्श करने वाला जिला :— पौढ़ी
  • पर्वत श्रेणियों पर स्थिति प्रमुख नगर :—- नैनीताल, रानीखेत, अल्मोड़ा, डोडीहाट, जोशीमठ, गोपेश्वर, पौढ़ी, मसूरी आदि
  • पर्वत घाटियों में बसे प्रमुख नगर :—– देहरादून, चम्पावत, पिथौरागढ़, बागेश्वर आदि
  • उत्तरांचल राज्य विधेयक लोक सभा में पारित :—– 1 अगस्त, 2000 को
  • उत्तरांचल राज्य विधेयक राज्यसभा में पारित :——– 10 अगस्त, 2000 को
  • उत्तरांचल राज्य विधेयक राष्ट्रपति के. आर. नारायन द्वारा स्वीकृत :—- 28 अगस्त, 2000 को
  • उत्तरांचल राज्य का गठन :——— 9 नवम्बर, 2000 को
  • भारतीय गणतंत्र का :—————- 27 वाँ राज्य
  • पर्वतीय राज्यों के क्रम में सबसे अद्यतन गठित पर्वतीय राज्य :——– उत्तराखण्ड (11 वाँ राज्य)
  • राज्य का नाम——–31-12-2006 तक उत्तरांचल तत्पश्चात 1-1-2007 से उत्तराखण्ड
  • राज्य की राजधानी :——— देहरादून ( राज्य गठन के समय से )
  • राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी :———- गैरसैंण (20 जून 2020 से )
  • राजकीय भाषा :————I हिन्दी (जन. 2010 से II संस्कृत )
  • राजकीय चिन्ह : ——एक गोलाकार मुद्रा में तीन पर्वत चोटियां और उसके नीचे गंगा की चार लहरें अंकित है। बीच की चोटी में अशोक का लाट अंकित है।
  • राजकीय पशु :——— कस्तूरी मृग (हिमालयन मस्क डियर )
  • राजकीय पक्षी :———- मोनाल (हिमालय का मयूर)
  • राजकीय वृक्ष :———- बुरांस
  • राजकीय पुष्प :———- ब्रह्म कमल (स्थानीय नाम कौंलपद्म)
  • राज्य खेल (2011 में घोषित) :—– फुटबाल
  • राज्य वाद्य (2015 में घोषित ) :——– ढोल
  • राज्य तितली (2016 में घोषित) :——कॉमन पीकॉक
  • राज्य गीत (हेमन्त बिष्ट लिखित, फरवरी, 2016 में घोषित) :——– उत्तराखण्ड देवभूमि, मातृभूमि, शत शत वंदन…
  • राजकीय पुष्प ब्रह्म कमल का वैज्ञानिक नाम है :———– सोसूरिया अबवेलेटा
  • ब्रह्मकमल को महाभारत में कहा गया है :———— सौगन्धिक पुष्प
  • उत्तराखण्ड में ब्रह्मकमल की प्रजातियां मिलती हैं :———— 24
  • उत्तराखण्ड में किस स्थान पर ब्रह्मकमल बहुतायत में पाया जाता है ? :———- फूलों की घाटी में
  • ब्रह्मकमल पुष्प के खिलने का समय है :————- जुलाई से सितम्बर
  • उत्तराखण्ड के राज्य पशु कस्तूरी मृग का वैज्ञानिक नाम हैं————- मास्कस काइसोगॉस्टर
  • कस्तूरी मृग उत्तराखण्ड के अलावा भारत में और कहाँ पाया जाता है ? : —-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश तथा सिक्किम आदि राज्यों में
  • उत्तराखण्ड में कस्तूरी मृग विशेष रूप से पाया जाता है :—-फूलों की घाटी, उत्तरकाशी, केदारनाथ तथा पिथौरागढ़ में
  • कस्तूरी केवल नर मृग से प्राप्त किया जाता है और वह भी एक बार में केवल :—-30 से 45 ग्राम
  • राज्य में कस्तूरी मृग के संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए सर्वप्रथम प्रयास किया गया : ——1972 में चमोली में
  • राज्य वृक्ष बुरॉस का वानस्पतिक नाम है :——– रोडोडेन्ड्रान अरबोरियम
  • बुरॉस किस प्रकार का वृक्ष है ? :—– सदाबहार, पर्वतीय
  • राज्य में 46 दिन (देश में सबसे कम दिन) का अनुच्छेद 356 के तहत राष्ट्रपति शासन : —-27 मार्च से 12 मई, 2016

उत्तराखण्ड : शासनिक- प्रशासनिक ढांचा [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

  • उ.प्र. के 13 हिमालयी जिलों को काटकर 9 नवम्बर 2000 को भारतीय गणतंत्र के 27 वें और हिमालयी राज्यों में 11वें राज्य के रूप में ‘उत्तरांचल राज्य का गठन किया गया ।
  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    1 जनवरी 2007 से इसका नाम उत्तराखण्ड कर दिया गया है।

  • गठनोपरान्त सन 2001 में प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के लिए जिन प्रतीक चिन्हों का निर्धारण किया गया उनका संक्षिप्त वर्णन अधोलिखित हैं
  • उत्तराखण्ड के प्रतीक चिन्ह में पर्वतों की संख्या तीन है ।
  • गोलाकार मुहर में तीन पर्वतों की श्रृंखला में ऊपर अशोक की लाट तथा नीचे गंगा की लहरों को दर्शाया हैं।
  • उत्तराखण्ड हिमालयी राज्यों के क्रम में 11वाँ राज्य है तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से भारतवर्ष का 18वाँ राज्य है।
  • 13 जनपदों में विभाजित इस राज्य का कुल क्षेत्रफल 53,483 वर्ग किमी है। जो देश के कुल क्षेत्रफल का 1.69 प्रतिशत है।
  • उत्तर प्रदेश से अलग करके गठित किये गये नये प्रदेश उत्तराखण्ड में कुल दो संभाग, 13 जिला एवं 113 तहसील हैं। |
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला उत्तरकाशी है जबकि सबसे छोटा जिला चंपावत है।
  • 13 जिलों के नाम हैं – (1) उत्तरकाशी, (2) चमोली, (3) रुद्रप्रयाग, (4) टिहरी गढ़वाल, (5) देहरादून, (6) पौड़ी गढ़वाल, ( 7 ) पिथौरागढ़, ( 8 ) चम्पावत, (9) अल्मोड़ा, (10) बागेश्वर, (11) नैनीताल, ( 12 ) उधम सिंह नगर, ( 13 ) हरिद्वार |

विशेष राज्य का स्तर

  • भारत सरकार ने योजना आयोग की संस्तुति पर उत्तराखण्ड को अप्रैल 2001 में विशेष राज्य का स्तर प्रदान किया।
  • योजना आयोग नया नाम 1 जनवरी 2015 से बदलकर अब नीति आयोग हो गया।
  • इसका अध्यक्ष प्रधानमंत्री होते हैं तथा इसका मुख्यालय नई दिल्ली है।

उत्तराखण्ड राज्य की प्रशासनिक इकाई

  • नगर निगम उत्तराखण्ड राज्य के नगरों की स्थानीय शासी निकाय है।
  • उत्तराखण्ड में कुल 13 जिले, 2 संभाग, 110 तहसील, 9 नगर निगम, 13 जिला पंचायत है।
  • उत्तराखण्ड में सीटों का आवंटन-
  • राज्यसभा की सीटे ——- 03
  • लोकसभा की सीटे ——— 05
  • विधानसभा की सीटें———– 70
  • मण्डल की संख्या ———– 02
  • मण्डल —— 2
  • कुल जिले —— 13
  • तहसील ——- 110
  • विकासखण्ड —– 95
  • उत्तराखण्ड विधानसभा में एक सदस्य एंग्लो इंडियन समुदाय से नामित किया जाता है।
  • वर्तमान में 104वें संविधान संशोधन से लोकसभाराज्य विधान सभाओं से एंग्लो इंडियन आरक्षण खत्म कर दिया गया है।
  • उत्तराखण्ड का गठन 9 नवंबर, 2000 को हुआ था ।
  • इसका क्षेत्रफल 53,483 वर्ग किमी है।
  • राज्य की विधायिका एक सदनीय हैं इसके विधान सभा की सदस्य संख्या है। विधानसभा मे अनुसूचित जाति के सदस्यो की संख्या 13 तथा अनुसूचित जनजातियों के सदस्यों की संख्या 2 है ।
  • उत्तराखण्ड के विधानसभा में पिछड़े वर्ग के लिए कोई भी सीट आरक्षित नही की गई है।

राज्य चिन्ह –

  • शासकीय कार्यों के लिए स्वीकृत राज्य चिन्ह में उत्तराखण्ड के भौगोलिक स्वरूप की झलक मिलती है।
  • इस चिन्ह में एक गोलाकार मुद्रा में तीन पर्वत चोटियों की शृंखला और उसके नीचे गंगा की 4 लहरों को दर्शाया गया है।
  • बीच में स्थित चोटी अन्य दोनों चोटियों से ऊँचा है और उसके मध्य में अशोक का लाट अंकित है।
  • अशोक के लाट के नीचे मुण्डकोपनिषद से लिया गया वाक्य ‘सत्यमेव जयते’ लिखा है।
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

राज्य-पुष्प-

  • मध्य हिमालयी क्षेत्र में 4800 से 6000 मीटर की ऊँचाई पर पाये जाने वाले पुष्प ब्रह्मकमल को उत्तराखण्ड सरकार ने राज्य-पुष्प घोषित किया है ।
  • यह ऐसटेरसी कुल का पौधा है। इसका वैज्ञानिक नाम सोसूरिया अबवेलेटा है।
  • उत्तराखण्ड में इसकी कुल 24 और पूरे विश्व में 210 प्रजातियाँ पाई जाती हैं।
  • उत्तराखण्ड के फूलों की घाटी, केदारनाथ, शिवलिंग बेस, पिंडारी ग्लेशियर आदि क्षेत्रों में यह पुष्प बहुतायत में पाया जाता है ।
  • स्थानीय भाषा में इसे ‘कौंल पद्म‘ कहा जाता है।
  • इस पुष्प का उल्लेख वेदों में भी मिलता है।
  • महाभारत के वनपर्व में इसे ‘सौगन्धिक पुष्प’ कहा गया है।
  • पौराणिक मान्यता के अनुसार इस पुष्प को केदारनाथ स्थित भगवान शिव को अर्पित करने के बाद विशेष प्रसाद के रूप में बाँटा जाता है।
  • ब्रह्मकमल के पौधों की ऊँचाई 70-80 सेमी होती है। इसमें जुलाई से सितम्बर तक मात्र तीन माह तक फूल खिलते हैं ।
  • बैगनी रंग का इसका पुष्प टहनियों में नहीं, बल्कि पीले पत्तियों से निकले कमल पात में पुष्प गुच्छ के रूप में खिलता है। जिस समय इसके फूल खिलते हैं उस समय वहाँ का पूरा वातावरण सुगन्ध से भर जाता है।

राज्य – पक्षी –

  • हिमालय के मयूर के नाम से प्रसिद्ध मोनाल को राज्य पक्षी घोषित किया गया है।
  • यह पक्षी लगभग सम्पूर्ण हिमालयी क्षेत्र में 2500 से 5000 मीटर के ऊँचाई वाले घने जंगलों में पायी जाती है।
  • मोनाल तथा डफिया एक ही प्रजाति के पक्षी हैं लेकिन मोनाल मादा पक्षी है और डफिया नर पक्षी
  • ध्यातव्य है कि हिमाचल प्रदेश का राज्य पक्षी और नेपाल का राष्ट्रीय पक्षी भी मोनाल ही है।
  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    मोनाल का वैज्ञानिक नाम लोफोफोरस इंपीजेनस है ।

  • इपेलेस, स्केलेटरी, ल्यूरी, तथा ल्यूफोफोरसएन्स आदि इसकी चार मुख्य प्रजातियाँ हैं ।
  • उत्तराखण्ड, कश्मीर, असम तथा नेपाल में स्थानीय भाषा में इस पक्षी को मन्याल या मुनाल के नाम से जाना जाता है।
  • नीले, काले, हरे आदि रंगों के मिश्रण वाले इस पक्षी की पूँछ हरी होती है।
  • मोर की तरह इसके नर के सिर पर रंगील कलगी होती है। यह पक्षी अपना घोंसला नहीं बनाती अपितु किसी चट्टान या पेड़ के छिद्र में अण्डे देती है ।
  • वनस्पति, कीड़े-मकोड़े, आलू आदि मोनाल के प्रिय भोजन हैं। इनमें भी आलू विशेष प्रिय है। आलू की फसल को यह बहुत नुकसान पहुँचाती हैं।
  • मांस और खाल के लिए मोनाल का शिकार अधिक होता है, जिससे इनकी संख्या दिनोदिन घट रही है।

राज्य पशु-

  • उत्तराखण्ड सरकार ने वनाच्छादित हिमशिखरों पर 3600 से 4400 मी. की ऊंचाई के मध्य पाये जाने कस्तूरी मृग को राज्य पशु घोषित किया है।
  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    अबैध शिकार के कारण विलुप्त होने के कगार पर पहुँच रहे इस प्रजाति के मृग राज्य के केदारनाथ, फूलों की घाटी, उत्तरकाशी तथा पिथौरागढ़ जनपद के 2 से 5 हजार मीटर की ऊँचाई पर स्थित जंगलों में पायें जाते हैं।

  • यहाँ इस मृग की चार प्रजातियाँ पायी जाती है। ध्यातव्य है कि कस्तूरी वाले मृग उत्तराखण्ड के अलावा कश्मीर, हिमाचल प्रदेश तथा सिक्किम आदि राज्यों में भी पाये जाते हैं ।
  • इस मृग का वैज्ञानिक नाम ‘मास्कस काइसोगॉस्टर’ है। इसे हिमालयन मस्क डियर के नाम से भी जाना जाता
  • इस मृग का रंग भूरा होता है जिस पर काले-पीले धब्बे पाये जाते हैं। इसके एक पैर में चार खुर होते हैं। नर मृग की पूँछ छोटी और बाल रहित होती है। इनकी ऊँचाई लगभग 20 इंच और वजन 10 से 20 किग्रा होती है। इनकी घ्राण और श्रवण शक्ति बहुत तेज होती हैं
  • आत्मरक्षा के लिए इनमें सींग की बजाय दो बड़े-बड़े दांत पाये जाते हैं जो बाहर की ओर निकले होते हैं। इनकी औसत आयु लगभग 20 वर्ष होती है।
  • मादा मृग की गर्भधारण अवधि 6 माह होती है और एक बार में प्रायः एक ही मृग का जन्म होता है।
  • कस्तूरी केवल नर मृग में पाया जाता है। जिसका निर्माण एक वर्ष से अधिक आयु के मृग के जननांग के समीप स्थित ग्रन्थि से स्रावित द्रव के नाभि के पास एक गाठनुमा थैली में एकत्र होने से होता है ।
  • इसी गाँठ का आपरेशन कर गांढ़े द्रव के रूप में कस्तूरी प्राप्त किया जाता है। एक मृग से एक बार में सामान्यतया 30 से 45 ग्राम तक कस्तूरी प्राप्त की जाती है और इससे 3-3 वर्ष के अंतराल पर कस्तूरी प्राप्त की जा सकती है।
  • कस्तूरी एक जटिल प्राकृतिक रसायन है, जिसमें अद्वितीय सुगंध होती है। इसका उपयोग सुगंधित सामग्रियों के अलावा दमा, निमोनिया, हृदय रोग, टाइफाइड, मिरगी तथा ब्रांकायूरिस आदि रोगों के औषधियों के निर्माण में किया जाता है ।
  • कस्तूरी की मांग एवं मूल्य अधिक होने के कारण इनका अवैध शिकार अधिक होता हैं जिससे इनकी संख्या और लिंग अनुपात में तेजी से गिरावट आ रही है।
  • यद्यपि सरकार द्वारा इनके संबर्द्धन और संरक्षण के लिए 1972 से ही अधोलिखित प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन कोई विशेष सफलता नही मिल पा रही है ।
  • 1972 में तत्कालीन उ. प्र. सरकार द्वारा चमोली के केदारनाथ वन्य जीव प्रभाग के अन्तर्गत 967.2 वर्ग किमी क्षेत्र में कस्तूरी मृग विहार की स्थापना की गई है।
  • 1977 में महरूड़ी कस्तूरी मृग अनुसंधान केन्द्र की स्थापना की गई है।
  • 1986 में पिथौरागढ़ में अस्कोट अभ्यारण्य की स्थापना की गई है।
  • 1982 में चमोली जिले के काँचुला खर्क में एक कस्तूरी मृग प्रजनन एवं संरक्षण केन्द्र की स्थापना की गई है।
  • राज्य की वन्य जीव गणना 2008 के अनुसार कस्तूरी मृगों की संख्या 279 (2005 में) से घटकर 276 हो गई हैं।

राज्य-वृक्ष-

  • बसन्त के मौसम में अपने रंग-बिरंगे फूलों से उत्तराखण्ड के प्राकृतिक सौन्दर्य को और अधिक निखार देने वाले सदाबहार वृक्ष बुरॉस को राज्य वृक्ष घोषित किया गया है।
  • इसका वानस्पतिक नाम रोडोडेन्ड्रान अरबोरियम है।
  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    यह विशुद्ध रूप से एक पर्वतीय वृक्ष है जिसे मैदान में नही उगाया जा सकता है।

  • 1500 से 4000 मी. की ऊँचाई तक मिलने वाले बुरॉस के फूलों का रंग चटख लाल होता है।
  • इससे ऊपर बढ़ने पर फूलों का रंग क्रमशः गहरा लाल और हल्का लाल मिलता है। 11 हजार फुट की ऊँचाई पर सफेद रंग के बुरॉस पाए जाते हैं।
  • बुरॉस का फूल मकर संक्रांति के बाद गर्मी बढ़ने के साथ धीरे-धीरे खिलना शुरू होता है और बैसाखी तक पूरा खिल जाता है। उसके बाद गर्मी के बढ़ जाने के कारण इसके फूल सूखकर गिरने लगते हैं ।
  • औषधीय गुणों से युक्त बुराँस के फूलों का जूस हृदय रोग के लिए बहुत लाभकारी है। इसके फूलों से रंग भी बनाया जाता है।
  • बुरॉस वृक्षों की ऊँचाई 20 से 25 फीट होती है। इसकी लकड़ी बहुत मुलायम होती है जिसका ज्यादेतर उपयोग ईंधन के रूप में किया जाता है । इसके पत्ते मोटे होते हैं जिससे खाद बनाया जाता है।
  • बुरॉस के अवैध कटान के कारण वन अधिनियम 1974 में इसे संरक्षित वृक्ष घोषित किया है लेकिन इसके बाद भी बुरॉस वृक्ष का संरक्षण नहीं हो पा रहा है।

Noted Point —

  • उत्तराखण्ड राज्य की स्थापना 9 नवंबर 2000 को हुआ तथा इस राज्य का राजकीय चिन्ह निम्न है।
  • राज्य पुष्प ——– ब्रह्म कमल
  • राज्य पक्षी——— मोनाल
  • राज्य पशु——— कस्तूरी मृग
  • राज्य वृक्ष———– बुरॉस

उत्तराखंड : भौगोलिक स्थिति [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

  • उत्तर प्रदेश पुनर्गठन विधेयक, 2000 के लोक सभा एवं राज्य सभा में पारित होने के बाद 25 अगस्त, 2000 को तत्कालीन राष्ट्रपति के. आर. नारायणन ने इसे अपनी स्वीकृति प्रदान की ।
  • 9 नवंबर, 2000 को भारत के 27वें राज्य के रूप में उत्तराखंड अस्तित्व में आया।
  • गठन के समय इसका नाम उत्तरांचल था, किंतु 1 जनवरी, 2007 को इसका नाम उत्तराखंड कर दिया गया।
  • यह राज्य हिमालय के उत्तर-पश्चिम से दक्षिण-पूर्व तक अर्द्ध-चंद्राकार रूप में भारत भूमि के 1.63 प्रतिशत तथा जनसंख्या का 0.83 प्रतिशत भाग धारण किए हुए है।
  • इसका कुल क्षेत्रफल 53,483 वर्ग किमी. है।
  • उत्तराखण्ड में दो मण्डल हैं – (1) गढ़वाल, (2) कुमायूँ ।
  • गढ़वाल मंडल में कुल 7 जिले हैं –
  • (1) हरिद्वार, (2) | देहरादून, (3) उत्तरकाशी, (4) रुद्रप्रयाग, ( 5 ) टिहरी गढ़वाल, (6) | पौड़ी गढ़वाल, ( 7 ) चमोली।
  • जबकि कुमायूँ मंडल में कुल 6 जिले हैं –
  • (1) नैनीताल, (2) ऊधम सिंह नगर, (3) बागेश्वर, (4) अल्मोड़ा, (5) पिथौरागढ़, (6) चम्पावत।

Noted Point –

  • उत्तराखण्ड निर्माण हेतु कौशिक समिति का गठन 4 जनवरी, 1994 को किया गया।
  • कौशिक समिति के अध्यक्ष रमाशंकर कौशिक थे।
  • इस समिति ने उत्तराखण्ड राज्य मे 8 जनपदों व 3 मंडलों के स्थापना की सिफारिश की थी।
  • 15 अगस्त, 1996 को तत्कालीन प्रधानमंत्री एच. डी. देवगौड़ा ने उत्तराखण्ड राज्य की घोषणा लाल किले से की थी।
  • 27 जुलाई 2000 को केन्द्र सरकार ने उत्तर प्रदेश पुनर्गठन विधेयक 2000 को लोकसभा में पेश किया जो कि 1 अगस्त 2000 को लोकसभा10 अगस्त 2000 को राज्यसभा में पारित हो गया ।
  • भारत के राष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश पुनर्गठन विधेयक को 28 अगस्त 2000 को अपनी स्वीकृति प्रदान की और इसके बाद 9 नवम्बर 2000 ई. को उत्तराखण्ड राज्य अस्तित्व में आया था।
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

अवस्थिति [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

  • इसका अक्षांशीय विस्तार 28°43′ से 31°27 उत्तरी अक्षांश के मध्य है।
  • उत्तराखंड का देशांतरीय विस्तार 77°34′ से 81°02′ पूर्वी देशांतर के मध्य है।
  • उत्तराखंड राज्य का पूर्व से पश्चिम की ओर विस्तार 358 किमी. है, जबकि उत्तर से दक्षिण की ओर विस्तार 320 किमी. है।
  • उत्तराखंड की अधिकतम लंबी सीमा को स्पर्श करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश है।
  • उत्तराखंड की न्यूनतम लंबी सीमा को स्पर्श करने वाला राज्य हरियाणा है।
  • उत्तराखंड का मात्र एक जिला देहरादून, हरियाणा राज्य की सीमा को स्पर्श करता है।
  • उत्तराखंड राज्य के 4 ऐसे जिले (टिहरी गढ़वाल, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर एवं अल्मोड़ा) हैं, जिनकी सीमाएं किसी अन्य राज्य या देश को स्पर्श नहीं करती हैं।
  • उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले की सीमाएं राज्य के 7 जिलों यथा नैनीताल, अल्मोड़ा, चमोली, रुद्रप्रयाग, टिहरी गढ़वाल, देहरादून एवं हरिद्वार को स्पर्श करती हैं।
  • उत्तराखंड के 5 जिले यथा —- देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी गढ़वाल, नैनीताल एवं ऊधम सिंह नगर उत्तर प्रदेश की सीमा को स्पर्श करते हैं।
  • उत्तराखंड राज्य का जिला पिथौरागढ़ दो देशों यथा- चीन (तिब्बत) एवं नेपाल की सीमा को स्पर्श करता है।
  • चीन (तिब्बत) की सीमा को स्पर्श करने वाले उत्तराखंड के जिले हैं —— उत्तरकाशी, चमोली एवं पिथौरागढ़।
  • उत्तराखंड के तीन जिले यथा पिथौरागढ़, चंपावत एवं ऊधम सिंह नगर नेपाल देश की सीमा को स्पर्श करते हैं।
  • उत्तराखंड की सीमा से लगे राज्य हैं, यथा हिमाचल प्रदेश, हरियाणा एवं उत्तर प्रदेश |
  • उत्तराखंड की उत्तर-पूर्वी सीमा को स्पर्श करने वाला देश चीन (तिब्बत) है।
  • उत्तराखंड की पश्चिमी सीमा को स्पर्श करने वाले राज्य हैं, यथा —- हरियाणा एवं हिमाचल प्रदेश।
  • उत्तराखंड की पूर्वी सीमा को स्पर्श करने वाला देश नेपाल है।
  • उत्तराखंड की दक्षिण-पश्चिम सीमा को स्पर्श करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश है।
  • उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर जिले की अधिकतम सीमा उत्तर प्रदेश से लगती है।
  • उत्तराखंड के नैनीताल जिले की न्यूनतम सीमा उत्तर प्रदेश से लगती है।
  • उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले की सीमा नेपाल को सर्वाधिक स्पर्श करती है।

अंतर्राष्ट्रीय सीमा

  • उत्तराखण्ड राज्य के 5 जिलों की सीमा अंतर्राष्ट्रीय सीमा से मिलती है ।
  • ये जिले —- पिथौरागढ़, चम्पावत, ऊधम सिंह नेपाल के साथ तथा पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, चमोली चीन के साथ सीमा मिलती है।
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
विभिन्न राज्यों/देश से लगे उत्तराखंड के जिले
राज्य / देश जिले
उत्तर प्रदेश देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, पौड़ी गढ़वाल, ऊधम सिंह नगर
हिमाचल प्रदेश देहरादून, उत्तरकाशी
हरियाणा देहरादून
नेपाल पिथौरागढ़, चंपावत, ऊधम सिंह नगर
चीन (तिब्बत) उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़
राज्य के विभिन्न जिलों की सीमाओं को स्पर्श करने वाले जिले
प्रमुख जिले सीमाओं से लगे जिले
पौड़ी गढ़वाल (7 जिले) नैनीताल, अल्मोड़ा, चमोली, रुद्रप्रयाग, टिहरी गढ़वाल, देहरादून, हरिद्वार
चमोली (6 जिले) पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, पौड़ी गढ़वाल, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी
अल्मोड़ा (6 जिले) पिथौरागढ़, चंपावत, नैनीताल, पौड़ी गढ़वाल, बागेश्वर, चमोली
हरिद्वार (2 जिले) देहरादून, पौड़ी गढ़वाल
रुद्रप्रयाग (4 जिले) चमोली, पौड़ी गढ़वाल, टिहरी गढ़वाल, उत्तरकाशी
चंपावत (4 जिले) पिथौरागढ़, ऊधम सिंह नगर, नैनीताल, अल्मोड़ा
उत्तरकाशी (4 जिले) देहरादून, टिहरी गढ़वाल, चमोली, रुद्रप्रयाग
बागेश्वर (3 जिले) पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, चमोली
  • उत्तराखंड राज्य का आकार लगभग आयताकार हैं पूर्व से पश्चिम तक राज्य की लम्बाई लगभग 358 किमी. तथा उत्तर- दक्षिण तक चौड़ाई लगभग 320 किमी है।
  • उत्तराखण्ड में 5 जिले विदेशी सीमा तथा 4 जिले राज्य सीमा साझा करते हैं।
  • 4 जिले आंतरिक है, जो किसी देश या राज्य से सीमा साझा नहीं करते है —रूद्रप्रयाग, बागेश्वर, टिहरी अल्मोड़ा।
राज्य की 110 तहसीलें
जनपद तहसील संख्या तहसील का नाम
पिथौरागढ़ 13 पिथौरागढ़, मुन्स्यारी, धारचुला, डीडीहाट, गंगोलीहाट, बेरीनाग, बंगापानी, गणाई – गंगोली, देवलथल, कनालीछीना, थल, तेजम व पांखु ।
अल्मोड़ा 12 अल्मोड़ा, रानीखेत, भिकियासैंण, सल्ट, चौखुटिया, सोमेश्वर, द्वारहाट, भनौली, जैंती, स्याल्दे, धौलछीना व लमगड़ा।
चमोली 12 चमोली, जोशीमठ, कर्णप्रयाग, थराली, पोखरी, गैरसैंण, घाट, जिलासू, आदिबदरी, नन्द प्रयाग, नारायण बगड़ व देवाल ।
पौड़ी 12 पौड़ी, श्रीनगर, थलीसैंण, कोटद्वार, धूमाकोट, लैंसडाउन, यमकेश्वर, चौबट्टाखाल, सतपुली, चाकीसैंण, जाखड़ीखाल व बीरोंखाल ।
टिहरी 12 टिहरी, प्रतापनगर, नरेंद्रनगर, देवप्रयाग, धनसाली, जाखणीधार, धनोल्टी, कंडीसैड़, गजा, नैनबाग,कीर्तिनगर व बालगंगा ।
नैनीताल 9 नैनीताल, हलद्वानी, रामनगर, धारी, कुश्या कटौली, कालाढूंगी, बेतालघाट,

लालकुआँ व ओकलकाण्डा।

ऊ. सिं.न. 8 काशीपुर, किच्छा, खटीमा, सितारगंज, बाजपुर, जसपुर, गदरपुर व रूद्रपुर ।
देहरादून 7 चकराता, देहरादून, विकासनगर, ऋषिकेश, त्यूनी, कालसी व डोईवाला ।
उत्तरकाशी 6 डुंडा, भटवाड़ी, पुरोला, बड़कोट, मोरी व चिन्यालीसौड़ |
बागेश्वर 6 बागेश्वर, कपकोट, गरुड़, कांडा, दुगनाकुरी व काफलीगैर ।
चम्पावत 5 चम्पावत, पाटी, पूर्णागिरि, लोहाघाट व बाराकोट ।
रुद्रप्रयाग 4 रुद्रप्रयाग, ऊखीमठ, जखोली व बसुकेदार ।
हरिद्वार 4 हरिद्वार, लक्सर, रुड़की व भगवानपुर
राज्य के 95 ब्लाक
जनपद संख्या विकासखण्डों के नाम
पौढ़ी गढ़. 15 थलीसैंण, कल्जीखाल, पौढ़ी, पाबौ, कोट, लैंसडाउन, दुगड्डा, वीरोखाल, रिखणीखाल, द्वारीखाल, यमकेश्वर, पोखडा, नोनीडांडा, खिरसू व एकेश्वर ।
अल्मोड़ा 11 स्यालदे, चौखुटिया, भिकियासैंण, ताड़ीखेत, सल्ट, द्वाराहाट, लमगड़ा, धौलादेवी, हवालबाग, ताकुला व भैसियाछाना ।
टिहरी गढ़. 10 टिहरी, प्रतापनगर, चंबा, जौनपुर, नरेन्द्रनगर, देवप्रयाग, कीर्तिनगर, धनसाली, जाखणीधार धौलधार ।
नैनीताल 8 हल्द्वानी, रामनगर, भीमताल, रामगढ़, कोटाबाग, बेतालघाट, धारी व ओखलकाड़ा।
पिथौरागढ़ 8 मुनस्यारी, धारचुला, बेरीनाग, डीडीहाट, कनालीछीना, गंगोलीहाट, मूनाकोट व पिथौरागढ़ |
चमोली 8 जोशीमठ, दसौली, घाट, कर्णप्रयाग, नारायण बगड़, थराली, देवाल व गैरसैंण ।
ऊ. सिं. नगर 7 जसपुर, काशीपुर, बाजपुर, गदरपुर, रुद्रपुर, सितारगंज व खटीमा ।
उत्तरकाशी 6 मोरी, पुरोला, नौगॉव, डुंडा, चिन्यालीसौंण व भटवाड़ी।
देहरादून 6 रायपुर, डोईवाला, विकासनगर, चकराता, कालसी व सहसपुर ।
हरिद्वार 6 रुड़की, भगवानपुर, नारसन ( कुरही), बहादराबाद, लक्सर व खानपुर ।
चम्पावत 4 चम्पावत, लोहाघाट, बाराकोट व पाटी।
बागेश्वर 3 बागेश्वर, कपकोट, गरुड़
रुद्रप्रयाग 3 ऊखीमठ, अगस्त्यमुनी व जखोली ।

क्षेत्रफल [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

  • उत्तराखंड राज्य का क्षेत्रफल भारत भूमि के क्षेत्रफल का लगभग 1.63 प्रतिशत है।.
  • 2 जून, 2014 को तेलंगाना राज्य के निर्माण के पश्चात उत्तराखंड क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का 19वां राज्य था, परंतु वर्तमान (जम्मू और कश्मीर के विभाजन के पश्चात ) में भारत का 18वां राज्य है।
  • उत्तराखंड राज्य का आकार लगभग आयताकार है।
  • राज्य का सर्वाधिक क्षेत्रफल वाला जिला चमोली (8030 वर्ग किमी.), जबकि न्यूनतम क्षेत्रफल वाला जिला चंपावत (1766 वर्ग किमी.) है।
  • उत्तराखंड सांख्यिकीय डायरी, 2021-22 के अनुसार, राज्य के पर्वतीय जिलों का क्षेत्रफल 46,035 वर्ग किमी. है, जबकि मैदानी जिलों (ऊधम सिंह नगर एवं हरिद्वार) का क्षेत्रफल 7,448 वर्ग किमी. है।
  • राज्य के पर्वतीय एवं मैदानी जिलों का क्षेत्रफल राज्य के कुल क्षेत्रफल का क्रमशः लगभग 86.1 प्रतिशत एवं 13.9 प्रतिशत है।
  • उत्तराखंड राज्य में दो मंडल यथा – गढ़वाल एवं कुमाऊं हैं।
  • राज्य के गढ़वाल मंडल के अंतर्गत 7 जिले (पौड़ी गढ़वाल, हरिद्वार, देहरादून, टिहरी गढ़वाल, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग एवं चमोली) हैं, जिनका कुल क्षेत्रफल लगभग 32,449 वर्ग किमी. है।
  • उत्तराखंड राज्य के कुमाऊं मंडल के अंतर्गत कुल 6 जिले (अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, नैनीताल, पिथौरागढ़ एवं ऊधम सिंह नगर) हैं, जिनका क्षेत्रफल लगभग 21,034 वर्ग किमी. है।
  • गढ़वाल एवं कुमाऊं मंडल का क्षेत्रफल उत्तराखंड राज्य के कुल क्षेत्रफल का क्रमशः लगभग 60.7 प्रतिशत एवं 39.3 प्रतिशत है।
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
Uttarakhand District Area Wise
जिला (वर्ग किमी.) Year of Establishment
चमोली 8,030 1960
उत्तरकाशी 8,016 1960
पिथौरागढ़ 7090 1960
पौड़ी गढ़वाल 5329 1840
नैनीताल 4251 1891
टिहरी गढ़वाल 3,642 1949
अल्मोड़ा 3139 1891
देहरादून 3,088 1871
ऊधमसिंह नगर 2542 1995
हरिद्वार 2360 1988
बागेश्वर 2246 1997
रुद्र प्रयाग 1,984 1997
चम्पावत 1766 1997

नोट- [उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand ]

  • क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखण्ड राज्य का सबसे बड़ा जिला चमोली है तथा जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला हरिद्वार (1890422) है।
  • उत्तराखण्ड का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला चंपावत है । वही क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला चमोली है ।
  • जनसंख्या की दृष्टि से उत्तराखण्ड का सबसे बड़ा जिला हरिद्वार है। जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला रूद्र प्रयाग है।
Comparison of Indian States According to Area
Sr no State Capital District Area {sq km} %
Rajasthan Jaipur 33 3,42,239 10.41
Madhya Pradesh Bhopal 51 3,08,255 9.37
Maharashtra Mumbai 36 3,07,713 9.36
Uttar Pradesh Lucknow 75 240,928 7.33
J & K Sri Nagar 22 222,236 6.76
Gujarat Gandhi Nagar 33 196,024 5.96
Karnataka Bangalore 30 191,791 5.83
Andhra Pradesh Hyderabad 13 162,968 4.87
Odisha Bhubaneswar 30 155,707 4.73
Chhattisgarh Raipur 27 135,191 4.11
Tamil Nadu Chennai 32 130,058 3.95
Telangana Hyderabad 10 112,077 3.49
Bihar Patna 40 94,163 2.86
West Bengal Calcutta 20 88,752 2.70
Arunachal Pradesh Itanagar 17 83,743 2.54
Jharkhand Ranchi 24 79,714 2.42
Assam Dispur 27 78,438 2.38
Himachal Pradesh Shimla 12 55,673 1.70
Uttarakhand Dehradun 13 53,483 1.62
Punjab Chandigarh 22 50,362 1.53
Haryana Chandigarh 21 44,212 1.34
Kerala Thiruvananthapuram 14 38,863 1.18
Meghalaya Shillong 11 22,429 0.68
Manipur Imphal 9 22,327 0.68
Mizoram Aizawal 8 21,081 0.64
Nagaland Kohima 11 16,579 0.50
Tripura Agartala 8 10,486 0.31
Sikkim Gangtok 4 7,096 0.21
Goa Panji 2 3,702 0.11
UT
And. & Noc. Port Blair 3 8,249 0.25
Delhi Delhi 11 1,490 0.04
Dadra & Nag Haveli Silvassa 1 491 0.01
Puducherry Pondicherry 4 492 0.01
Chandigarh Chandigarh 1 114 0.003
Daman and Diu Daman 2 112 0.003
Laksdhweep kavaratti 1 32 0.001
Disputed area 23 0.0007
Total Area 640 Dist 32,63,287 100%

Area comparison of Uttarakhand to other State

राज्य क्षेत्रफल

उत्तर प्रदेश — 243,286 वर्ग किमी.

मध्य प्रदेश—– 308,000 वर्ग किमी.

राजस्थान —- 342,239 वर्ग किमी.

उत्तराखण्ड——53,483 वर्ग किमी.

छत्तीसगढ़ = 1,35,100 वर्ग किमी.

झारखण्ड = 79,714 वर्ग किमी.

हिमाचल प्रदेश = 55,673 वर्ग किमी.

उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

Noted Point of उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand — 

Uttaranchal Bill/ उत्तरांचल विधेयक

  • उत्तरांचल विधेयक लोकसभा में 1 अगस्त, 2000 ई. को पारित हुआ ।
  • उत्तराखंड राज्य का विधेयक राज्यसभा में 10 अगस्त 2000 को पारित हुआ ।
  • उत्तराखंड राज्य 9 नवम्बर 2000 को भारत के 27 वें राज्य के रूप में गठित हुआ ।
  • उत्तराखण्ड का गठन 9 नवम्बर 2000 को भारत के 27 वें राज्य के रूप मे हुआ था, जब इसे उत्तरी उत्तर प्रदेश से अलग करके बनाया गया था।

Uttaranchal’ State was renamed ‘Uttarakhand’

  • गठन (9 नवम्बर, 2000) के समय इसका नाम उत्तरांचल रखा गया, जो 21 दिसम्बर, 2006 को उत्तरांचल (नाम परिवर्तन) अधिनियम, 2006 के पारित होने पर परिवर्तित होकर उत्तराखण्ड हो गया ।
  • यह 1 जनवरी 2017 से प्रभावी हो गया।

President’s Rule / राष्ट्रपति शासन

  • उत्तराखण्ड में अप्रैल 2021 तक दो बार राष्ट्रपति शासन लागू पहला किया जा चुका है-
  • 27 मार्च 2016 से 21 अप्रैल 2016 तक ।
  • दूसरा 22 अप्रैल 2016 से 11 मई 2016 तक ।

Land Ceiling Act

  • उत्तराखण्ड क्षेत्र के तराई क्षेत्र में भूमि संबंधी सीलिंग कानून [Land Ceiling Act] 1972 ई. में लागू किया गया था।

Bugyals, बुग्याल

  • उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand
    उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand

    बुग्याल, ऊंचे पहाड़ों में स्थित घास के मैदान होते हैं. ये अल्पाइन चरागाह भूमि या घास के मैदान होते हैं.

  • उत्तराखंड के गढ़वाल हिमालय में हिमशिखरों की तलहटी में, जहां पेड़ों की पंक्तियां खत्म हो जाती हैं, वहां से हरे-भरे घास के मैदान शुरू हो जाते हैं.
  • आम तौर पर ये 8 से 10 हज़ार फ़ुट की ऊंचाई पर स्थित होते हैं. इन मैदानों को बुग्याल कहा जाता है.
  • इनकी ज़मीन समतल या ढलान वाली हो सकती है.
  • बुग्यालों को ‘प्रकृति का अपना उद्यान’ या ‘प्रकृति की अपनी नर्सरी’ भी कहा जाता है.
  • इनमें कई तरह की दुर्लभ प्रजाति की वनस्पतियां पाई जाती हैं, जिनमें रतनजोत, कलंक, वज्रदंती, अतीष, हत्थाजड़ी जैसी औषधि युक्त जड़ी-बूटियां भी शामिल हैं.
  • इन बुग्यालों के बीचों-बीच झीलें भी होती हैं, जो इनकी खूबसूरती बढ़ा देती हैं

बुग्याल तीन तरह के होते हैं:

  • लद्दाख जैसे ठंडे रेगिस्तान में शुष्क अल्पाइन घास के मैदान. इनमें व्यापक लेकिन विरल वनस्पति होती है.
  • पश्चिमी ग्रेटर हिमालय में स्थित अल्पाइन घास के मैदान.
  • इनमें उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश या जम्मू और कश्मीर के राज्य शामिल हैं.
  • जनरेटिव एआई की सुविधा फ़िलहाल एक्सपेरिमेंट के तौर पर उपलब्ध है.
  • दयार बुग्यालउत्तरकाशी जनपद में स्थित है। यह 10 किमी. लम्बा व 5 किमी. चौड़ा है। मखमली घास व विभिन्न वन्य पुष्पों के लिए प्रसिद्ध यह क्षेत्र स्कीइंग के लिए भी बहुत उपयुक्त है।
  • बगजी बुग्यालचमोली जिले के सीमान्त विकास खंड देवाल में है । यह बुग्याल पिंडर एवं केल नदियों के बीच स्थित है।
  • बेदिनी बुग्याल – रुपकुण्ड मार्ग में स्थित यह बुग्याल बाण गाँव से 8 किमी. की दूरी पर स्थित है। यह वेदों की निर्माण स्थली मानी जाती

कुमाऊँ जिले

  • कुमाऊँ को 1839 में कुमाऊँ और गढ़वाल दो जिलों में विभक्त किया गया।
  • प्राचीन साहित्य में कुमाऊँ क्षेत्र का ‘मानसखंड के नाम से जाना जाता है।
  • कुमाऊँ शब्द की उत्पत्ति कूर्मांचल से हुई है जिसका अर्थ ‘कूर्म का देश’ होता है।
  • कुमाऊँ के उत्तर में तिब्बत और दक्षिण में उत्तर प्रदेश हैं इसके पूर्व में नेपाल और पश्चिम में गढ़वाल क्षेत्र स्थित हैं ।

तराई जिले

  • तराई जिले का गठन 1842 ई. में हुआ था ।

गढ़वाल

  • धनुष तीर्थ ‘श्रीनगर’ (गढ़वाल) को कहा जाता है।
  • यह अलकनंदा नदी के किनारे पर स्थित है तथा गढ़वाल पहाड़ियों का सबसे बड़ा शहर है।

Nainital

  • स्वतंत्रता के पश्चात् 1962 में नैनीताल को उत्तर प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया गया था।
  • अक्टूबर, 1850 में नैनीताल का गठन किया गया।
  • सन् 1862 में नैनीताल उत्तरी पश्चिमी प्रान्त का ग्रीष्मकालीन मुख्यालय बनाया गया।
  • नैनीताल उत्तराखण्ड का एक जिला है यह एक महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल भी है।
  • इसे झीलों का जिला कहा जाता है। क्योंकि यह पूरी जगह झीलों से घिरी हुई है ।
  • इसमें से सबसे प्रमुख झील नैनी झील है। यह उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले से सीमायें बनाती है।

उधम सिंह नगर जिला

  • उधम सिंह नगर जिला नैनीताल का एक हिस्सा था, इसे 1995 में जिला बना दिया गया।
  • इसका नाम स्वतंत्रता सेनानी और भारतीय क्रांतिकारी उधम सिंह के नाम पर रखा गया है।

पिथौरागढ़ जिले

  • पिथौरागढ़ जिले की स्थापना 24 फरवरी, 1960 ई० को हुई थी।
  • यह जिला उत्तराखण्ड राज्य के पूर्व में स्थित एक सीमान्त जनपद है जो नेपाल व तिबबत से सीमा साझा करता है। |
  • पिथौरागढ़ का अधिकांश भाग पहाड़ी एवं ऊबड़-खाबड़ है।
  • इस जिले को प्रमुख हिल रिजॉर्ट के रूप में भी जाना जाता है ।
  • यहाँ की प्राकृतिक सुन्दरता पर्यटकों को आकर्षित करती है। इस जिले को ‘लिटिल कश्मीर’ के नाम से भी जाना जाता है।
  • पिथौरागढ़ का उत्तर-पूर्वी भूखण्ड, प्राचीनकाल में सीरा राज्य कहलाता था ।
  • पिथौरागढ़ का पुराना नाम सोरघाटी है ।
  • सोर शब्द का अर्थ होता है सरोवर
  • यहाँ पर माना जाता है कि पहले इस घाटी में सात सरोवर थे ।
  • दिन-प्रतिदिन सरोवरों का पानी सूखता चला गया और यहाँ पर पठारी भूमि का जन्म हुआ ।
  • उत्तराखण्ड में ग्वालदम, गढ़वाल और कुमायूँ के बीच स्थित हिल स्टेशन है जो चाय की बागान है एवं चौकोड़ी एवं बेरीनाग पिथौरागढ़ जिले में स्थित चाय बागान है ।

चमोली जनपद

  • उत्तराखण्ड के 6 जनपद चमोली जनपद की सीमा को स्पर्श करते है ।
  • चमोली जिले को 1960 में पूर्व गढ़वाल जिले से नए जिले के रूप अलग किया गया।
  • यह पिथौरागढ़, बागेश्वर, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग अल्मोड़ा, पौड़ी गढ़वाल के साथ अपनी सीमा साझा करता है ।
  • चाँदपुरगढ़ का राज्य चमोली जनपद में था ।
  • यही भानुप्रताप पाल की राजधानी थी।
  • इसके बाद यहीं पंवार राजवंश के संस्थापक कनकपाल ने अपनी राजधानी बनाई ।
  • गैरसैण उत्तराखण्ड के चमोली जिले में स्थित है।
  • गैरसेण उत्तराखण्ड की ग्रीष्म कालीन राजधानी है।
  • यह स्थान उत्तराखण्ड के पामीर के नाम से जानी जाने वाली दुधाटोली पहाड़ी पर स्थित हैं।
  • गैरसैंण दो शब्द गैर और सैण से मिलाकर बना हैं जहाँ गैर का अर्थ गहरा स्थान और सैंण का अर्थ मैदान होता है।
  • इस प्रकार गैरसैंण का वास्तविक अर्थ गहरे में समतल मैदानी इलाका है ।

‘उत्तरकाशी’

  • उत्तरकाशी गंगोत्री के मार्ग पर स्थित प्राचीन तीर्थ है।
  • विश्वनाथ के मंदिर के कारण ही इसका नाम उत्तरकाशी हुआ
  • इस सुरम्य एवं मनोरम स्थल को भगवान शंकर का निवास स्थान माना जाता है।
  • कालांतर में इसे उत्तरकाशी कहा जाने लगा ।
  • केदारखंड एवं पुराणों में उत्तरकाशी के लिए ‘बाराहाट’ शब्द का प्रयोग किया जाता है।
  • पुराणों में इसे ‘सौम्य काशी’ भी कहा गया है ।

पौड़ी गढ़वाल जनपद

  • उत्तराखण्ड राज्य के पौड़ी गढ़वाल जनपद की सीमा राज्य के सात जनपदों के साथ सीमा बनाती है।
  • ये सात जिले अल्मोड़ा, नैनीताल, रूद्रप्रयाग, चमोली, देहरादून, टिहरी गढ़वाल एवं हरिद्वार है ।
  • कोटद्वार को पौड़ी गढ़वाल का ‘प्रवेश द्वार माना जाता है।
  • कोटद्वार अपने धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है।
  • यह प्रसिद्ध पहाड़ी इलाका लैंसडाउन का प्रवेश द्वार हैं।
  • पौड़ी गढ़वाल – उत्तराखंड का जिला है, जो उत्तर में चमोली, रूद्रप्रयाग, दक्षिण में बिजनौर, पूर्व में अल्मोड़ा पश्चिम में देहरादून से घिरा हुआ है।

हरिद्वार

  • प्रकृति प्रेमियों के लिए एक स्वर्ग, हरिद्वार भारतीय संस्कृति और सभ्यता की बहुरूपदर्शिका प्रस्तुत करता है ।
  • हरिद्वार को ईश्वर का प्रवेश द्वार भी कहा जाता है, जिसे मायापुरी, कपिला, गंगाधार के रूप मे भी जाना जाता है ।
  • हरिद्वार उन चार स्थानों में से एक है ( प्रयागराज, नासिक, उज्जैन, हरिद्वार) जहाँ प्रत्येक छह वर्ष बाद अर्द्ध कुंभ व 12वर्ष बाद महाकुंभ का आयोजन होता है।

Postal service between Almora-Shrinagar

  • अल्मोड़ा – श्रीनगर के मध्य डाक व्यवस्था 1815 ई. में प्रारम्भ की गई।
  • कर्नल गार्डनर (1815-16 ई.) कुमाऊँ के प्रथम कमिश्नर थे।
  • इन्होंने ही अल्मोड़ा – श्रीनगर के मध्य डाक व्यवस्था लागू की।

आकाशवाणी केन्द्र

  • उत्तराखण्ड के अल्मोड़ा जिलें में आकाशवाणी केन्द्र स्थित है।
  • अल्मोड़ा में स्थित आकाशवाणी केन्द्र को वर्ष 1986 में स्थापित किया गया था ।
  • अल्मोड़ा आकाशवाणी केन्द्र उत्तराखण्ड की संस्कृति के प्रचार-प्रसार के लिए जाना जाता है।
  • कुमाऊँनी एवं गढ़वाली लोकगीतों का प्रसारण इस केन्द्र से प्रमुख रूप से किया जाता है।
  • साथ ही इस केन्द्र से भक्ति संगीत, फिल्म संगीत, लोक मंजरी, शास्त्रीय संगीत, युवावाणी एवं किसान वाणी जैसे अनेक लाभकारी कार्यक्रम प्रसारित किए जाते हैं ।

उत्तराखण्ड अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र

  • उत्तराखण्ड अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र की स्थापना वर्ष 2005 में देहरादून में की गयी थी।
  • उत्तराखण्ड अंतरिक्ष अनुप्रयोग केन्द्र, अंतरिक्ष-प्रौद्योगिकी से संबंधित गतिविधियों के लिए उत्तराखण्ड राज्य में नोडल एजेंसी है, और इसे राज्य और इसके लोगों के लाभ के लिए अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी को नियोजित करने का अधिकार है।

डॉ. सम्पूर्णानन्द खुली जेल

  • सितारगंज (उत्तराखण्ड) में डॉ. सम्पूर्णानन्द खुली जेल स्थित है।
  • सितारगंज, कुमाऊँ मण्डल के उधम सिंह जिले में स्थित एक नगर हैं।

उत्तराखण्ड जल संस्थान

  • वर्ष 2002 में उत्तराखण्ड जल संस्थान की स्थापना की गई।

तिब्बत – नेपाल के साथ व्यापार

  • उत्तरांचल के उत्तरकाशी से तिब्बत – नेपाल के साथ व्यापार किया जाता है ।

पंचायती राज ग्रामीण स्थानीय स्वशासन

  • पंचायती राज ग्रामीण स्थानीय स्वशासन की एक प्रणाली है।
  • 73वें और 74वें संशोधन अधिनियमों में भारत के संविधान में नये घटकों को जोड़ा गया।
  • 73वाँ संविधान संशोधन देश भर की पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं के लिए 33.3% अनिवार्य आरक्षण की व्यवस्था करता है।
  • जबकि उत्तराखण्ड पंचायत राज में महिलाओं के लिए आरक्षित स्थानों का कुल प्रतिशत 50% है ।

राज्य भाषा

  • उत्तराखण्ड की दूसरी राज्य भाषा संस्कृत है।
  • 19 जनवरी 2010 को तत्कालीन मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल ने संस्कृत को राज्य की दूसरी आधिकारिक भाषा घोषित किया।
  • हिंदी इस राज्य की प्रथम आधिकारिक भाषा है।
  • गढ़वाली और कुमाऊँनी ऐसी बोलियाँ है जो इस राज्य में बोली जाती है।

भारत का स्विटजरलैण्ड

  • 1929 में महात्मा गांधी ने अनासक्ति योग पर अपना काम करने के लिये इस गांव में डेरा डाला और काफी दिनों तक यहां रूके थे।
  • इस पहाड़ी क्षेत्र की प्राकृतिक संदरता को देखते हुये महात्मा गांधी ने भारत का स्विटजरलैण्ड कहा था।
  • यह गाँव है कौसानी जिसे पहले वासना के नाम से जाना जाता था।
  • कौसानी (Kausani) भारत के उत्तराखण्ड राज्य के कुमाऊँ मण्डल के बागेश्वर ज़िले की गरुड़ तहसील में स्थित एक गाँव है।

Question and Answers of उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand 

1. In which year Nainital was made summer capital of Uttar Pradesh after independence? स्वतंत्रता पश्चात किस वर्ष नैनीताल को उत्तर प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया गया ?

(a) 1958 A.D./1958 ई. में (b) 1972 A.D./1972 ई. में

(c) 1965 A.D./1965 ई. में (d) 1962 A.D. / 1962 ई. में

DOE-Junior Assis. Tax Collector 31/10/2021 (Shift-II)

Ans. (d) :

2. When was pithoragarh district established? पिथौरागढ़ जिले की स्थापना कब हुई थी ?

(a) 24 February, 1960 A.D. 24 फरवरी, 1960 ई0 को

(b) 22 February, 1960 A.D. 22 फरवरी, 1960 ई0 को

(c ) 12 February, 1960 A.D. 12 फरवरी, 1960 ई0 को

(d) 23 February, 1960 AD. 23 फरवरी, 1960 ई0 को

DOE-Guard (Secretariat) 05/09/2021

Ans. (a) :

3. Uttaranchal Bill was passed in Lok Sabha on :/ उत्तरांचल विधेयक लोकसभा में पारित हुआ।

(a) 8 August, 2000 A. D. / 8 अगस्त, 2000 ई. को

(b) 1 August, 2000 A.D. / 1 अगस्त, 2000 ई. को

(c) 28 August, 2000 A. D. / 28 अगस्त, 2000 ई. को

(d) 1 August, 2001 A. D. / 1 अगस्त, 2001 ई. को

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2006-07

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2002-03

Ans. (b) :

4. One member is nominated to the Uttarakhand Legiaslive Assemble: उत्तराखण्ड विधान सभा में एक सदस्य नामित किया जाता है:

(a) Parsi Community/पारसी समुदाय से (b) Anglo- Indian Community / एंग्लो- इण्डियन समुदाय से

(c) Muslim Community/मुस्लिम समुदाय से (d) Chistian Community/ईसाई समुदाय से

DOE – Abkari Shipahi 10/01/2021

Ans. (b) :

  • उत्तराखण्ड विधानसभा में 71 सीटें हैं एवं 70 सीटों पर चुनाव का आयोजन होता है।
  • इनमे 1 सीट पर आंग्ल भारतीय नामित किया जाता है ।

5. President’s Rule came into force in Uttarakhand on : उत्तराखण्ड में राष्ट्रपति शासन लागू हुआ

(a) 27 March, 2016 A. D. / 27 मार्च 2016 ई0 को

(b) 24 March, 2016 A.D. / 24 मार्च 2016 ई0 को

(c) 20 March, 2016 A. D. / 20 मार्च 2016 ई0 को

(d) 30 March, 2016 A. D. / 30 मार्च 2016 ई० को

Uttarakhand RO Exam 10/09/2016

Ans. (a) :

6. Uttarakhand is the Indian State of Republic :उत्तराखण्ड भारतीय गणतंत्र का राज्य है:

(a) 26th/26 वां (b) 27th/27 वां (c) 28th / 28 वां (d) 29th / 29 वां

Ans. (b) :

7. The Land Ceiling Act applied in the Tarai area of Uttarakhand region in :/उत्तराखण्ड क्षेत्र के तराई क्षेत्र में भूमि संबंधी कानून लागू किया गया :

(a) 1982 A.D./1982 ई. में (b) 1961 A.D./1961 ई. में

(c) 1972 A.D./1972 ई. में (d) 1985 A.D./1985 ई. में

DOE-Junior Assis. Tax Collector 05/12/2021

Ans. (c) :

8. Postal service between Almora-Shrinagar was started in :/अल्मोड़ा – श्रीनगर के मध्य डाक व्यवस्था आरम्भ की गई :

(a) 1815 A.D./1815 ई. में (b) 1805 A.D./ 1805 ई. में

(c) 1819 A.D./1819 ई. में (d) 1825 A.D./1825 ई. में

High Court Asistant Lipik Exam

Ans. (a) :

9. From the following, the district with highest number of Legislative Assembly seats in Uttarakhand is : / निम्न में से उत्तराखण्ड में सबसे अधिक विधान सभा सीटों वाला जिला है :

(a) Haridwar / हरिद्वार (c) Nainital / नैनीताल

(b) Dehradun/देहरादून (d) Chamoli / चमोली

DOE-Junior Assis. Tax Collector 05/12/2021

Ans. ( a ) :

  • उत्तराखण्ड के हरिद्वार जिले में सर्वाधिक विधानसभा सीटों की संख्या ( 11 ) है ।
  • वर्तमान में उत्तराखण्ड में विधानसभा सीटों की संख्या 71 है जिसमें 15 सीटों को अनुसूचित जाति व अनुसूचित | जनजाति के लिए आरक्षित किया गया है।

10. The ‘Uttaranchal’ State was renamed ‘Uttarakhand’ in the year / उत्तरांचल’ राज्य का नाम ‘उत्तराखण्ड’ किस वर्ष किया गया ?

(a) 2000 (c) 2007 (b) 2004 (d) 2010

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2006-07

Ans. (c) :

11. निम्नलिखित में से कौन सा राज्य, क्षेत्रफल में सबसे छोटा है?

(a) उत्तर प्रदेश (c) राजस्थान (b) मध्य प्रदेश (d) उत्तराखण्ड

UK PSC Lower (Pre) Exam 2011

Ans. (d) :

12. How many districts are contiguous to international boundary in Uttarakhand state? उत्तराखण्ड राज्य के कितने जिलों की सीमा अन्तर्राष्ट्रीय सीमा से मिलती है।

(a) 3 (c) 5 (b) 4 (d) 6

Uttarakhand RO /ARO (Pre) Exam 2021 (27/03/2022)

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2002-03

Ans. (c) :

13. ‘उत्तरकाशी’ का प्राचीन नाम था-

(a) सुदर्शन क्षेत्र (c) लक्षेश्वर (b) बाराहाट (d) वर्णावर्त

Uttarakhand RO Exam 10/09/2016 Uttarakhand RO/ARO (Main) Exam 2016

Ans. (b) :

14. उत्तराखण्ड का कौन सा जिला नेपाल की सीमा को छूता है?

(a) पौड़ी गढ़वाल (c) चमोली (b) उत्तरकाशी (d) पिथौरागढ़

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2006 Uttarakhand PCS (Main) Exam 2010-11

Ans. (d) :

  • उत्तराखण्ड के सीमावर्ती राज्य हिमाचल प्रदेश, हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश है।
  • जबकि सीमावर्ती देशों में चीन का तिब्बती क्षेत्र तथा नेपाल हैं ।
  • पिथौरागढ़, चीन और नेपाल दोनों की सीमा को स्पर्श करता है ।

15. उत्तराखण्ड का कुल क्षेत्रफल है-

(a) 60,480 वर्ग कि.मी. (c) 55,483 वर्ग कि.मी. (b) 53,483 वर्ग कि.मी. (d) 65, 480 वर्ग कि.मी.

Uttarakhand UDA/LDA (Pre) Exam 2006

Ans. (b) :

16. उत्तराखण्ड में जिलों की कुल संख्या है

(a) 12 (c) 14 (b) 13 (d) 15

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2006-07

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2002-03

Ans. (b) :

17. उत्तरांचल का राज्य पुष्प है-

(a) बुरांश (c) ब्रह्म कमल (b) कमल (d) उपर्युक्त में से कोई नही

Ans. (c) :

  • उत्तरांचल राज्य का राज्य पुष्प ‘ब्रह्म कमल’ वैज्ञानिक नाम-‘Soussurea obrallata’ है।
  • ध्यातव्य है कि इस राज्य का राज्य वृक्ष ‘बुरांश’, राज्य पक्षी ‘मोनाल ‘, राज्य पशु ‘कस्तूरी मृग’ है।

18. उत्तरांचल राज्य की स्थापना हुई है –

(a) 9 अप्रैल, 2000 को (c) 9 नवम्बर, 2000 को (b) 1 नवम्बर, 2000 को (d) 15 नवम्बर, 2000 को

Uttarakhand UDA/LDA (Pre) Exam 2003

Ans. (c) :

  • उत्तरांचल राज्य की स्थापना 9 नवम्बर, 2000 को (भारत के 27वें राज्य के रूप में) हुई थी तथा इसकी राजधानी देहरादून है।

19. निम्नलिखित में से कौन सा एक उत्तरांचल का जिला नहीं है?

(a) रुड़की (c) ऊधमसिंह नगर (b) रुद्र प्रयाग (d) बागेश्वर

Uttarakhand UDA/ LDA (Pre) Exam 2003

Ans. (a) :

  • उतरांचल राज्य में 13 जिले हैं । रुड़की जिला नहीं है बल्कि हरिद्वार जिले की एक तहसील है ।

20. निम्न में, कौन सा, उत्तराखण्ड के गढ़वाल मण्डल का एक जनपद नहीं है?

(a) हरिद्वार (b) उत्तरकाशी (c) रुद्र प्रयाग (d) चम्पावत

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2006

Ans. (d) :

21. उत्तराखण्ड का वह कौन सा जनपद है जहाँ सर्वाधिक खादी उद्योग स्थापित हैं?

(a) नैनीताल (b) चम्पावत (c) ऊधम सिंह नगर (d) चमोली

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2006

Ans. (b) :

  • उत्तराखण्ड में खादी उद्योग का सर्वाधिक संकेंद्रण चम्पावत जिले में स्थित है ।

22.निम्न में से कौन सा बुग्याल उत्तरकाशी जिले में स्थित है?

(a) बगजी ‘बुग्याल (b) बेदी बुग्याल (c) दयार बुग्याल (d) बगजी एवं वेदनी बुग्याल

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2004-05

Ans. (c) :

23. उत्तरांचल के निम्न में से, किस स्थान से तिब्बत – नेपाल के साथ व्यापार किया जाता है?

(a) उत्तरकाशी से (c) जोशीमठ से (b) पिथौरागढ़ से (d) लैन्सडाउन से

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2004-05

Ans. (a) :

  • उत्तरांचल के उत्तरकाशी से तिब्बत – नेपाल के साथ व्यापार किया जाता है ।

24. निम्न में से कौन सा उत्तरांचल राज्य का जनपद नहीं है?

(a) चम्पावत (c) बिजनौर (b) बागेश्वर (d) रुद्र प्रयाग

Uttarakhand PCS (Main) Exam 2002-03

Ans. (c) :

  • उत्तरांचल राज्य में कुल 13 जनपद हैं।
  • बिजनौर उत्तर प्रदेश का जिला है तथा चम्पावत, बागेश्वर, रुद्र प्रयाग आदि जनपद उत्तरांचल राज्य के हैं।

25. How many districts of Uttarakhand are linked with the international boundaries? / उत्तराखण्ड के कितने जनपद अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं से जुड़े है ?

(a) 03 (c) 05 (b) 04 (d) 06

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2021 (03/04/2022)

Ans. (c) :

26. निम्न में से कौन भारत के राज्यों का उनके क्षेत्रफल के अवरोही क्रम से सही क्रम है?

(a) उत्तराखण्ड, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, हिमाचल प्रदेश

(b) झारखण्ड, उत्तराखण्ड, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़

(c) छत्तीसगढ़, झारखण्ड, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड

(d) हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड, झारखण्ड, छत्तीसगढ़ Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2014-15

Ans. (c) :

27. उत्तराखंड का सर्वाधिक क्षेत्रफल वाला जिला कौन सा है?

(a) नैनीताल (c) अल्मोड़ा (b) देहरादून (d) उत्तरकाशी

Assistant Review Officer (ARO) 04/12/2016

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2006-07

Ans. (d) :

  • उत्तराखण्ड राज्य का क्षेत्रफल लगभग 53,483 वर्ग किमी. है, इसका अक्षांशीय विस्तार 28°43′ उत्तरी अक्षांश से 31°27′ उत्तरी अक्षांश एवं देशान्तरीय विस्तार 77°34′ पूर्वी से 81°02′ पूर्वी देशान्तर है।
  • उत्तराखण्ड राज्य की उत्तरी सीमा हिमाचल प्रदेश एवं चीन से, पश्चिमी सीमा हरियाणा से, पूर्वी सीमा नेपाल से तथा दक्षिणी सीमा उत्तर प्रदेश से मिलती है।

28. निम्न पक्षियों में से कौन सा पक्षी उत्तरांचल का राज्य पक्षी है?

(a) गोड़ावसन (c) मोनाल (b) क्वेल (d) कबूतर

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2004-05

Ans. (c):

  • उत्तराखण्ड राज्य का राज्य पक्षी मोनाल है।
  • मोनाल का |वैज्ञानिक नाम Lophophorus Impejanus है।
  • मोनाल पक्षी की सुन्दरता के कारण इसे हिमालयी मयूर तथा हिमालयी पक्षियों का सिरमौर भी कहा जाता है ।

29. ‘चाँदपुरगढ़’ का राज्य स्थित था-

(a) पौड़ी गढ़वाल में (b) पिथौरागढ़ में (c) चमोली में (d) अल्मोड़ा में

Uttarakhand PCS (Pre) Exam 2004-05

Ans. (c) :

30. The State animal of Uttarakhand is उत्तराखण्ड का राज्य पशु है

(a) Lion / सिंह (c) Elephant / हाथी (b) Leopard/तेंदुआ (d) Kasturi Mrig / कस्तूरी मृग

UK FRO (Pre) Exam 2012

Ans. (d)

31. एच०डी० देवगौड़ा ने उत्तराखण्ड राज्य की घोषणा लाल किले से कब की –

(b) 15 अगस्त, 1995 (a) 15 अगस्त, 1994 (c) 15 अगस्त, 1996 (d) 15 अगस्त, 1997

Forest Arakshi Bharti Exam – 2015

Ans. (c) :

32. निम्न में से किस स्थान पर आकाशवाणी केन्द्र है-

(a) पिथौरागढ़ (c) टिहरी (b) उधम सिंह नगर (d) अल्मोड़ा

Forest Arakshi Bharti Exam – 2015

Ans. (d) :

33. गलत युग्म का चयन कीजिए – ( उत्तराखण्ड )

(a) राज्यसभा की सीटें —– 05

(b) लोकसभा की सीटें —— 05

(c) विधानसभा की सीटें —— 70

(d) मण्डल की संख्या ———- 02

Sahayak Parichalak Exam (Post Code- 20) 21/10/2016

Ans. (a) :

34. उत्तराखण्ड में कितने नगर निगम हैं-

(a) 01 (c) 09 (b) 02 (d) इनमें से कोई नहीं

Karmik Sahayak (Chitra Lekhan) Exam – 2014

Ans. (c) :

35. उत्तराखण्ड राज्य के कितनी जनपद चमोली जनपद की सीमा को स्पर्श करते हैं-

(a) 6 (c) 7 (b) 4 (d) 5

Assistant Review Officer Exam – 21/12/2014

Ans. (a ) :

36. उत्तराखण्ड राज्य में कितनी तहसील हैं

(a) 13 (c) 78 (b) 26 (d) इनमें से कोई नहीं

Jail Bandi Rakshak Exam – 15/09/2013

Ans. (d) :

37. उत्तराखण्ड विधानसभा में एक सदस्य नामित किया जाता है

(a) ईसाई समुदाय से (c) एंग्लो इंडियन (b) मुस्लिम समुदाय से समुदाय से (d) उपरोक्त में कोई नहीं

UK High Court Exam – 25/06/2012

Ans. (c) :

38. योजना आयोग की संस्तुति पर भारत सरकार ने उत्तराखण्ड को विशेष राज्य का स्तर कब प्रदान किया-

(a) 1 अप्रैल 2001 ई0 को (b) 5 अप्रैल 2001 ई० को (c) 7 अप्रैल 2001 ई0 को (d) उपरोक्त कोई नहीं

Assistant Lipik/DEO Exam (Post code-06/30…) 06-05-2018

Ans. (a) :

39. कुमाऊँ को किस वर्ष ‘कुमाऊँ एवं गढ़वाल’ दो जिलों में विभक्त किया गया –

(a) सन् 1839 ई0 में (c) सन् 1840 ई0 में (b) सन् 1836 ई० में (d) उपरोक्त में कोई नहीं

वन दरोगा ( पद कोड- 102) 16/02/2020 ( Shift-I)

Ans. (a):

40. ‘धनुष तीर्थ’ कहलाता है

(a) बद्रीनाथ (c) उत्तरकाशी (b) टिहरी (गढ़वाल) (d) ऋषिकेश

वन दरोगा (पद कोड- 102 ) 16/02/2020 (Shift-II)

Ans. (b) :

41. पिथौरागढ़ का उत्तर-पूर्वी भूखण्ड, प्राचीनकाल में कहलाता था –

(a) काली कुमाऊँ (c) डोटी (b) सीरा राज्य (d) बीसा

Assistant Social Welfare Officer Exam 25/11/2018

Ans. (b) :

42. उत्तराखण्ड में 2006 ई0 के परिसीमन में मैदानी क्षेत्रों में सृजित 6 नई विधान सभाओं में सम्मिलित नहीं है –

(a) रायपुर (c) नानकमत्ता (b) खानपुर (d) बी.एच.ई.एल

High Court Asistant Lipik Exam (Post Code 133&134) 01/10/2019

Ans. (b) :

  • उत्तराखण्ड में 2006 ई0 के परिसीमन में मैदानी क्षेत्रों में सृजित 6 नई विधान सभाओं में खानपुर सम्मिलित नहीं है

43. निम्न में से, उत्तरप्रदेश के किस जिले से नैनीताल जिले की सीमायें लगती है

(a) मुरादाबाद (c) रामपुर (b) बरेली (d) बिजनौर

High Court Asistant Lipik Exam (Post Code 133&134) 01/10/2019

Ans. (d) :

44. उत्तराखण्ड पंचायत राज में महिलाओं के लिए आरक्षित स्थानों का प्रतिशत है

(a) 33 (c) 40 (b) 50 (d) 52

UK ARO Exam 29/12/2019

Ans. (b) :

45. उत्तराखण्ड अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र की स्थापना की गई-

(a) 2000 ई० में (c) 2004 ई0 में (b) 2007 ईo में (d) 2005 ई0 में

Cartographer/ Draftman Exam (Post Code- 04/07…) 25/06/2017

Ans. (d) :

46. ऊधम सिंह नगर जिला बना

(a) 2000 ई0 में (c) 1998 ई0 में (b) 2004 ई0 में (d) 1995 ई0 में

Cartographer/ Draftman Exam (Post Code- 04/07…) 25/06/2017

Ans. (d) :

47. उत्तराखण्ड राज्य के किस जनपद की सीमा राज्य के सात जनपदों के साथ है-

(a) चमोली (c) पौड़ी गढ़वाल (b) अल्मोड़ा (d) उपर्युक्त में कोई नहीं

Social Welfare Officer Exam (Post Code-03) 21/06/2017

Ans. (c) :

48. प्राचीन साहित्य में कुमाऊँ क्षेत्र को जाना जाता था –

(a) केदारखण्ड (c) देवभूमि (b) मानसखण्ड (d) पुण्य भूमि

Junior Assistant /Computer Operator Exam (Post code – 61) 09/01/2017

Ans. (b) :

49. उत्तराखण्ड की दूसरी राज्य भाषा है

(a) कुमाऊँनी (c) पंजाबी (b) गढ़वाली (d) संस्कृत

Irrigational Exam (Post code-05 / 68) 21/05/2017

Ans. (d) :

50. उत्तराखण्ड में चाय बागान कहाँ पर है

(a) चौकड़ी (c) ग्वालदम (b) बेरीनाग (d) उपरोक्त सभी जगह

Storekeeper Exam (Post code – 67) 09/01/2017

Ans. (d) :

51. पौड़ी गढ़वाल जनपद का ‘प्रवेश द्वार’ कौन-सा है-

(b) ऋषिकेश (a) हरिद्वार (c) कोटद्वार (d) दुगड्डा

Irrigational Exam (Post code – 05/68) 21/05/2017

Ans. (c) :

52. क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तराखण्ड का सबसे बड़ा राष्ट्रीय पार्क है-

(a) कार्बेट नेशनल पार्क (c) पुष्पावती नेशनल पार्क (b) राजाजी नेशनल पार्क (d) इनमें से कोई नहीं

Amin Postal Exam (Post Code – 46 ) 11/06/2017

Ans. (d) :

  • गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान (1989) उत्तराकाशी जिले में भागीरथी नदी के ऊपरी जलग्रहण क्षेत्र में स्थित हैं।
  • यह उत्तराखंड का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है जिसका क्षेत्रफल 2390.02 वर्ग किमी. है।
  • गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान शंकुधारी जंगलों से घिरा हुआ है जो ज्यादातर समशीतोष्ण है।

53. उत्तराखण्ड से राज्य सभा के कितने प्रतिनिधि होते है-

(a) 2 (c) 4 (b) 3 (d) 5

Amin Postal Exam (Post Code – 46 ) 11/06/2017

Ans. (b):

  • उत्तराखंड से राज्य सभा में तीन प्रतिनिधि या सीटें है ।
  • राज्य से लोकसभा की 5 सीटे है। जबकि विधानसभा 70 सदस्यीय है।

54. उत्तराखण्ड (उत्तरांचल )ल संस्थान की स्थापना हुई-

(b) वर्ष 2002 में (a) वर्ष 2000 में (c) वर्ष 2001 में (d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Assistant Lipik Exam (Post code-5/31…) 28-10- 2018

Ans. (b) :

55. उत्तराखण्ड राज्य की विधान सभा में अनुसूचित जाति के लिए कितनी सीटें है-

(a) 16 (c) 11 (b) 17 (d) 13

High Court Stenographar Exam – 08/02/2015

Ans. (d) : उत्तराखण्ड राज्य की विधानसभा में अनुसूचित जाति के लिए 13 सीटें है।

56. उत्तराखण्ड राज्य की निम्न जनपदों की जनसंख्या सबसे अधिक है-

(a) चमोली (c) हरिद्वार (b) पौड़ी गढ़वाल (d) उत्तरकाशी

UK Police Constable Exam – 10/07/2016

Ans. (c) :

  • उत्तराखण्ड की सर्वाधिक जनसंख्या व जनधनत्व वाला जिला हरिद्वार है जबकि न्यूनतम जनसंख्या व जनघनत्व वाला जिला क्रमशः रूद्रप्रयाग व उत्तरकाशी है ।

57. क्षेत्रफल की दृष्टि से निम्न में से कौन-सा जिला उत्तराखण्ड राज्य में सबसे छोटा है-

(a) नैनीताल (c) चम्पावत (b) रूद्रप्रयाग (d) बागेश्वर

Jail Bandi Rakshak Exam (Post code-01) 09/10/2016

Ans. (c) :

58. उत्तराखण्ड राज्य की कुल लम्बाई तथा चौड़ाई है

(a) 358 किमी और 320 किमी (b) 320 किमी और 630 किमी

(c) 325 किमी और 540 किमी (d) 285 किमी और 360 किमी

Meat Inspector Exam (Post Code-58) 04/09/2016

Ans. (a) :

59. उत्तराखण्ड राज्य में कितने जिले हैं, जो किसी अन्य राज्य या देश से नहीं मिलते हैं –

(a) पाँच (c) चार (b) तीन (d) आठ

UK Jila Sahkari Bank Exam 25/10/2016

Ans. (c) :

60. उत्तराखण्ड निर्माण हेतु ” कौशिक समिति” का गठन किया-

(a) 1992 में (c) 1994 में (b) 1993 में (d) 1995 में

Data Entry Operator Exam – 06/11/2016

Ans. (c) :

61. किस स्थान को महात्मा गांधी ने ‘भारत का स्विटजलैण्ड’ कहकर पुकारा

(b) नैनीताल (a) कौसानी (c) पिथौरागढ़ (d) उपरोक्त में कोई नहीं

Data Entry Operator Exam – 06/11/2016

Ans. (a ) :

62. तराई जिले का गठन किया गया था –

(a) सन् 1842 में (b) सन् 1839 में (c) सन् 1892 में (d) सन् 1857 में

Van Kshetradhikari (FRO) Exam-26/12/2016

Ans. (a) :

63. उत्तराखण्ड के किस जिले में गैरसैण स्थित है?

(a) अल्मोड़ा (b) बागेश्वर (c) चमोली (d) रूद्रप्रयाग

Van Kshetradhikari (FRO) Exam-26/12/2016

Ans. (c) :

64. डॉo सम्पूर्णानन्द खुली जेल निम्न में से कौन-से स्थान पर है-

(a) अल्मोड़ा (c) सितारगंज (b) श्रीनगर (d) नैनीताल

Assistant Review Officer (ARO) 04/12/2016

Ans.(c) :

65. सही युग्म चयन कीजिए – ( उत्तराखण्ड में)

(a) प्रथम राज्यपाल———सुरजीत सिंह बरनाला

(b) प्रथम मुख्यमंत्री———–नित्यानंद स्वामी

(c) प्रथम मुख्य न्यायाधीश——- अशोक ए० देसाई

(d) उपयुक्त सभी युग्म सही है

Cooperative Inspector Class Exam 17/01/2015

Ans. (d) : उपर्युक्त सभी कथन सत्य है ।

• वर्तमान राज्यपाल ——————– गुरमीत सिंह

• वर्तमान मुख्यमंत्री —————– पुष्कर सिंह धामी

• वर्तमान मुख्य न्यायाधीश ———- श्री विपिन सांघी

66. उत्तराखण्ड की विधानसभा में अनुसूचित जनजातियों के लिए कितनी सीटें आरक्षित है-

(a) 5 (c) 2 (b) 3 (d) 7

Mukhya Sevika Exam – 25/01/2015

Ans. (c) :

67. उत्तराखण्ड में विधानसभा में पिछड़े वर्ग के लिए कितनी सीटें आरक्षित है-

(a) 2 (b) 13 (c) 10 (d) अन्य पिछड़े वर्ग के लिए कोई भी सीट नहीं

Pradeshik Resham Vibhag Exam-22/03/2015 UK High Court Lipic Exam – 08/02/2015

Ans. (d) :

68. राज्य के प्रतीक चिन्ह में पर्वतों की कितनी संख्या है-

(a) 02 (c) 04 (b) 03 (d) 05

High Court Stenographar Exam – 08/02/2015

Ans. (b) :

69. हरिद्वार का प्राचीन नाम है-

(b) गंगाद्वार (a) मायापुरी (c) (a) और (b) दोनों (d) इनमें से कोई नहीं

High Court Stenographar Exam – 08/02/2015

Ans. (c) :

70. उत्तराखण्ड से राज्यसभा के सदस्य हैं-

(b) अनिल बलूनी (a) प्रदीप टम्टा (c) (a) और (b) दोनों (d) इनमें से कोई नहीं

High Court Stenographar Exam – 08/02/2015

Ans. (c) :

  • प्रश्नकाल के दौरान प्रदीप टम्टा और अनिल बलूनी उत्तराखण्ड से राज्यसभा के सदस्य थे ।
  • वर्तमान में उत्तराखण्ड के राज्यसभा सदस्य निम्न है — नरेश बंसल, कल्पना सैनी, अनिल बलूनी ।

71. सही सुमेलित का चयन कीजिए-

(a) उत्तराखण्ड के प्रथम मुख्यमंत्री —- नित्यानंद स्वामी

(b) उत्तराखण्ड के प्रथम राज्यपाल ——- सुरजीत सिंह बरनाला

(c) उत्तराखण्ड के प्रथम मुख्य न्यायाधीश

(d) उपर्युक्त सभी

Sachivalay Prashasan Exam- 15/03/2015

Ans. (d) : उपर्युक्त सभी सही सुमेलित है।

72. उत्तराखण्ड का क्षेत्रफल के अनुसार देश में कौन सा स्थान है-

(a) 17 (c) 22 (b) 18 (d) 14

Pradeshik Resham Vibhag Exam-22/03/2015

Ans. (b) :

  • उत्तराखण्ड का क्षेत्रफल के अनुसार देश में 19 वाँ (तेलगांना के निर्माण के बाद) जनसंख्या है। उत्तराखण्ड की | राजधानी देहरादून है।

THE END of उत्तराखंड का भूगोल | Geography of Uttarakhand 

Other Important Link-

Census of Uttarakhand —Click Here

Transport of Uttarakhand — Click Here

Tribes of Uttarakhand — Click Here

Official Website of UKPSC —Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page